You are here
Home > राजस्थान > सौभाग्य योजना से हो सभी रोशन-सांसद जोशी

सौभाग्य योजना से हो सभी रोशन-सांसद जोशी

सांसद ने शून्यकाल में उठाया मामला

जयपुर। चित्तौड़गढ़ सांसद श्री सी.पी.जोशी ने कहा कि भारत सरकार द्वारा सचालित सौभाग्य योजना में बी.पी.एल. श्रेणी में जुड़ने से वंचित परिवारों को विद्युत उपलब्ध करवाने हेतु ग्रामीण क्षेत्र के निवासियों को ऎतिहासिक लाभ प्राप्त हो रहा हैं । सांसद श्री जोशी ने सौभाग्य योजना में ग्रामीण क्षेत्र के साथ ही शहरी क्षेत्र को भी इसमें जोडने की मांग की हैं ।

चित्तौड़गढ़ सांसद श्री सी.पी. जोशी ने मंगलवार को लोकसभा में शून्यकाल में यह मामला उठाते हुये कहा कि ग्रामीण क्षेत्र के पिछड़ों, वंचितों एवं गरीबों को विद्युत का लाभ प्रदान करने वाली सौभाग्य योजना में शहरी क्षेत्र को भी जोड़ा जाये। सांसद जोशी ने कहा कि भारत सरकार विद्युत योजनाओं के माध्यम से देश के अधिकांश परिवारों को लाभान्वित करने का प्रयास कर रही हैं। एक बहुत बड़ा वर्ग सरकार की योजनाओं का लाभ प्राप्त कर रहा हैं। सरकार द्वारा संचालित सौभाग्य योजना में बी.पी.एल. श्रेणी में जुड़ने से वंचित परिवारों को विद्युत उपलब्ध करवाने हेतु ग्रामीण क्षेत्र के निवासियों को लाभ प्राप्त हो रहा हैं ।

सांसद जोशी ने इसके साथ ही सरकार की इस योजना में अपने क्षेत्र की भागीदारी की चर्चा करते हुये कहा कि पंण्डित दीनदयाल ग्राम ज्योति योजना के अन्तर्गत आजादी के बाद पहली बार संसदीय क्षेत्र चित्तौड़गढ़ के लगभग 180 गाँव, ढाणी, मझरों को विद्युतिकृत करते हुये लोगों के घरों को रोशन किया गया। इसके साथ ही इन योजनाओं में विद्युत भार को व्यवस्थित करने के लिये फीडर सेपरेषन के कार्य भी हुये हैं।

संसदीय क्षेत्र कीे चित्तौड़गढ़ पं.स. में चीकसी, मेडी का अमराणा, ऑवलहेडा, निम्बाहेड़ा पं.स. में मिण्डाना, नया खेड़ा भदेसर पं.स. में आकोला खुर्द बेंगू पं.स. में मंडावरी, गंगरार पं.स. में बुढ़ भैसरोड़गढ़ पं.स. में जाल खेड़ा, लोठियाना पं.स. डूंगला में गुमानपुरा प्रतापगढ़ पं.स. में मदुरा तालाब, खोरिया अरनोद पं.स. में कोटडी, चकुण्डा, साखथलीखुर्द छोटीसादड़ी पं.स. में सुबी, गणेषपुरा, हडमतिया जागीर, मावली प.स. में फलीचडा, भानसोल, गोवर्धनपुरा तथा आई.पी.डी.एस. योजना में शहरी क्षेत्र चित्तौड़गढ़ में, कपासन के बलारड़ा रोड़ पर , निम्बाहेड़ा में आर. के. कॉलानी में, बड़ीसादड़ी में छोटीसादड़ी के गोमाना में एवं फतहनगर में फीडर सेपरेषन के लिये जी.एस.एस. स्वीकृत हुये हैं एवं भीण्डर एवं कानोड़ में पूर्व में लगे ट्रांसफार्मर की क्षमता बढ़ाते हुये 5 एम.वी.ए. के ट्रांसफार्मर लगाये गये हैं।

साथ ही यह एक ऎतिहासिक कार्य हैं इसके साथ ही सरकार ने शहरी एवं ग्रामीण बी.पी.एल. परिवारों को निःशुल्क कनेशन एवं एल.ई.डी. बल्ब उपलब्ध करवाये हैं इन सभी योजनाओं के कारण गरीब से गरीब व्यक्ति भी दैनिक जीवन में विद्युत का उपयोग करना सीख गया है । इसके कारण उसका जीवन सरल एवं बच्चों का भविष्य उज्ज्वल होगा।

Sharing is caring!

Similar Articles

Leave a Reply

Top